नजर में इजाफा करने के उपाय निम्नलीखीत है
आजकल बड़े ही नहीं बच्चे भी कंप्यूटर व टैबलेट और स्मार्ट फोन के स्क्रीन पर अपनी नजरें गढ़ाए रखते हैं। ऐसा करने से बच्चोंक की नजरें कमजोर हो जाती है और नजरों को पूरी तरह ठीक नहीं किया जा सकता, लेकिन उनमें सुधार किया जा सकता है। समय पर उपचार व नेत्रो की देखभाल और निर्धारित चश्मे के अलावा, कुछ सरल और प्रभावी तरीकों के साथ साथ आप अपने बच्चे की दृष्टि में वृद्धि कर सकते हैं।

संतुलित आहार देने से
संतुलित खानपान आंखों के लिए बहुत जरूरी होता है। अपने बच्चोंत की आंखों के लिए उसके आहार में विटामिन ए को प्रचुर मात्रा में शामिल करें। यह दूध और दूध से बने पदार्थों या मछली, अंडे, रंगीन फलों और हरी सब्जियों में पाया जाता है। साथ ही बच्चों् के खाने में विटामिन सी, डी और ई से युक्त चीजों का शेवन कराए।

फोकस अधिक कराए
पेंसिल को देखने के लिए अपने बच्चे को दीवार से कम से कम 10 या 12 फीट की दूरी पर खड़ा करें। अब बच्चेी को पेंसिल पर और दीवार पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कहें। इसे अधिक प्रभावी बनाने के लिए, आप दीवार पर एक कैलेंडर लगा लें, फिर बच्चेइ को पहले पेंसिल पर ध्यान केंद्रित करने और फिर कैलेंडर में तारीखों को पढ़ने के लिए कहें। इस एक्सफरसाइज को बच्चे को लगभग 15 या 20 मिनट करने के लिए कहे।

आंखों को आराम देना
अपने बच्चों को नियमित रूप से कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद लेने दें। साथ ही उसके चीजों को देखने के तरीके पर नजर रखें। यह ध्या़न रखें कि आपका बच्चाट टीवी स्क्रीनन के बहुत ज्यांदा पास न बैठें और बुक्से को चेहरे के बिल्कुआल पास से न पकड़ें। आंखों को तनाव और अधिक नुकसान से बचाने के लिए रोजाना गतिविधियों के दौरान ध्यासन मे रखें।

मेमोरी गेम खिलाए
मेमोरी गेम में बच्चों को मजा भी बहुत आता है। इन खेलों का मकसद बच्चेा की दृश्यन स्मृंति को बढ़ाना होता है। इनमें खेलों में प्रकृति की तस्वीकरें संक्षेप में होती है, जिसके कारण बच्चे‍ संभव रूप से चित्र के बारे में ज्याखदा याद करने की कोशिश करते हैं। बच्चेो के अधिक याद करने से बच्चे के संज्ञानात्मक क्षमताओं और दृष्टि को बढ़ाने में बेहतर तरीके से मदद करती है।

आंखों से लिखना को कहीए
इस एक्सखरसाइज को करने के लिए अपने बच्चे को दीवार की तरफ मुंह करके ! वास्तव में लिखने के बिना आंखों के साथ कुछ भी लिखने के लिए कहें। लेकिन ध्या न रखें कि आपका बच्चा सिर न हिलाये। कई अलग-अलग प्रकार के अक्षरों को आकार देने के लिए सिर्फ आंखों को चलाये। यह आंखों की मांसपेशियों को मजबूत बनाने में मदद करता है, जो नजरों के लिए बहुत अच्छा साबित होता है !

आंखों को घूमाना (रोटेट)
इस एक्समरसाइज को करने के लिए अपने बच्चे! को आंखों को बारी-बारी क्लॉकवाइज करने और फिर एक बार झपकने के लिए कहें। इसके बाद अपने बच्चेम को आंखों से पूर्ण क्लॉकवाइज सर्कल बनाने के लिए कहें। इसे कई बार दोहराये। लेकिन इस बात का ध्याखन रखें कि आपका बच्चा हर सर्कल के बाद अपनी आंखों को झपकाये।

ट्रैकिंग एक्सारसाइज कीजीए
वस्तुि ट्रैकिंग एक्सहरसाइज पढ़ाई में आपके बच्चें की बहुत मदद करती है, क्योंंकि यह पढ़ते समय आंखों को शब्दोंक पर ट्रैक रखने में मदद करती है। एक तार की मदद से गेंद जैसे वस्तुप को बांध दें ताकी वह बच्चेंं के नाक की सीध में रहें। अब आप इसे आगे और पीछे स्विंग करें और अपने बच्चेा को इसे देखने के लिए कहें। साथ ही यह भी ध्यासन रखें कि आपका बच्चाऔ सिर न हिलाये। और केवल आंखों की मदद से ही इस एक्सएरसाइज को करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here