भोजन पेट में जाकर एक प्रकार के ईंधन में बदलता है जिसे ग्लूकोज  कहते हैं। यह एक प्रकार की शर्करा होती है। ग्लूकोज हमारे रक्त धारा में मिलता है और शरीर की लाखों कोशिकाओं में पहुंचता है। pancreas (अग्न्याशय) ग्लूकोज उत्पन्न करता है इनसुलिन भी रक्तधारा में मिलता है और कोशिकाओं तक जाता है।

मधुमेह बीमारी का असली कारण जब तक आप लोग नही समझेगे आपकी मधुमेह कभी भी ठीक नही हो सकती है जब आपके रक्त में वसा (Bad Cholesterol)LDL की मात्रा बढ जाती है तब रक्त में मोजूद कोलेस्ट्रोल कोशिकाओ के चारों तरफ चिपक जाता है !और खून में मोजूद जो इन्सुलिन है कोशिकाओं तक नही पहुँच पाता है ,वो इन्सुलिन शरीर के किसी भी काम में नही आता है जिस कारण जब हम शुगर level चैक करते हैं शरीर में हमेशा शुगर का स्तर हमेशा ही बढा हुआ होता है क्यूंकि वो कोशिकाओ तक नहीं पहुंची क्योंकि वहाँ (Bad Cholesterol)LDL VLDL जमा हुआ है

जबकि जब हम बाहर से इन्सुलिन लेते है तब वो इन्सुलिन नया-नया होता है तो वह कोशिकाओं के अन्दर पहुँच जाता है !

दोस्तो अब आप शुगर लेवल का बढ़ा हुआ हेने का राज तो जान चुके है लेकिन अब सवाल यह है के हम कैसे इस जटिल रोग से छुटकारा पा सकते है  , क्या यह सम्भव है के इस रोग का इलाज़ हम घर बैठे कर सकते है ?

आज हम आपको बताने जा रहे है कैसे  आप अपने घर पर मधुमेह तथा (Diabetes) की दवाई तयार कर सके हो और शुगर लेवल को कंट्रोल कर सकते हो | दोस्तो इस नुस्खे को बनाने के लिए आपको कोई ख़ास मेहनत नहीं करनी पड़ेगी इसे बनाना बेहद आसान है | तो आये जानते है इस नुस्खे के बारे में|

सामग्री :-

  • 300 ग्राम हरी अजमोद
  • 6 नींबू (रस)

विधि :-

  • इस प्रयोग को तयार करने से पहले अजमोद की पत्तियों को अच्छी तरेह धो कर साफ़ करें और बरीक काट लें |
  • अब कटे अजमोद को बर्तन में डाल कर इसमें नींबू का रस डाल दें और बर्तन को अच्छी तरेह ढक दें |
  • अब दूसरी तरफ एक और बर्तन को पानी से भर दें और इस में पहला बर्तन (मिश्रण वाला अच्छी तरेह ढका हुआ बर्तन) डाल दें |
  • अब बर्तनों को आग पर रखें और तेज आग पर पानी उबाल लें जब पानी उबलने लगे तो आग को धीमी करें और 2 घंटो तक धीमी आग पर रखे रहने दें |
  • अब बर्तनों को आग से हटा दें और याद रखें पहले बर्तन को ढके रहने देना है और इसे नार्मल तापमान तक ठंडा होने दें |
  • अब मिश्रण को कांच के जार में निकाल कर रखें और फ्रिज में स्टोर करें (जार को अच्छी तरेह टाइट कर दें)
  • यह डोस आपको 2 महीनों के लिए काफी है |
  • रोजाना सुबह (नाश्ते से ½ घंटा पहले ) इस मिश्रण का 1 चम्मच सेवन करें | बोहत जल्द शुगर लेवल कंट्रोल हो जाएगा |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here