यूरिक एसिड का बढ़ना

यूरिक एसिड शरीर में बनने वाला एक रसायन है, यह पाचन प्रक्रिया के दौरान प्रोटीन के टूटने से बनता है। ज्यादातर यूरिक एसिड खून में घुलकर किडनी तक पहुंचता है। सामान्यतया यह पेशाब के जरिये बाहर निकल जाता है। लेकिन जब यह अधिक मात्रा में बनने लगता है तब पूरी तरह से निकल नहीं पाता। युरिक एसिड अधिक जमा हो जाये तो गाउट बन जाता है। आलस, नॉनवेज अधिक खाने के अलावा आनुवांशिक कारणों से शरीर में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने लगता है। यूरिक एसिड बढ़ने से जोड़ों में दर्द बढ़ जाता है। इससे पथरी होने की संभावना भी बढ़ जाती है। इसलिए समय पर इसे नियंत्रित करना बहुत जरूरी है। यूरिक एसिड कम करने के लिए आप घरेलू नुस्खों को आजमा सकते हैं।

Loading...
Loading...

loading...

नींबू का पानी

नींबू का सेवन सेहत के लिहाज से बहुत फायदेमंद है। जिनका यूरिक एसिड बढ़ गया हो उनके लिए यह रामबाण है। नींबू में विटामिन सी काफी मात्रा में पाया जाता है, जिसके सेवन से यह एसिडिक प्रभाव पैदा करता है। इसके कारण यूरिक एसिड का स्तर कम होने लगता है। एक गिलास हल्के गुनगुने पानी में एक नींबू निचोड़ लीजिए और सुबह-सुबह खाली पेट इसका सेवन कीजिए।

बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा से भी शरीर में बढ़े यूरिक एसिड की मात्रा को कम किया जा सकता है। बेकिंग सोडा शरीर में बेहतर एल्काइन स्तर बनाकर पेशाब के रास्तें यूरिक एसिड को निकालने में मदद करता है। एक गिलास पानी में आधा चम्मच बेकिंग सोडा घोलकर दो सप्ताह सेवन करने से यूरिक एसिड का स्तर कम हो जाता है।

loading...

अजवाइन का बीज

अजवाइन के सेवन से भी यूरिक एसिड का स्तर धीरे-धीरे कम होने लगता है। खाली पेट अजवाइन के बीजों का सेवन आप सीधे नहीं कर सकते हैं तो खाना पकाते वक्त इसका प्रयोग करें।

सेब का सिरका

सेब ही नहीं बल्कि सेब का सिरका कई बीमारियों को दूर करने में मदद करता है। शरीर में बढ़े यूरिक एसिड को कम करने के लिए सेब के सिरके का सेवन करें। इसके लिए एक गिलास पानी में दो चम्मच सेब का सिरका मिलाकर दिन में दो बार सेवन कीजिए।

बथुए के पत्ते

बथुए के पत्ते का जूस निकालकर सुबह खाली पेट इसका सेवन करें। इस जूस को पीने के बाद दो घंटे तक कुछ भी न खायें। एक सप्ताह तक इस जूस का सेवन करने से शरीर में यूरिक एसिड का स्तर सामान्य हो जाता है।

 

loading...

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here